Image by Leo Chane

सिर्फ किरदार बदल जाते है। तुषार गोयल


कहानी वही रहती है,

सिर्फ किरदार बदल जाते है


लोकतंत्र वही रहता है,

सिर्फ सरकार बदल जाती है,

सरकारी तिजोरी के हकदार बदल जाते है


परिवार वही रहता है,

सिर्फ घरबार बदल जाता है


अखबार वही रहता है,

सिर्फ सुर्खियां बदल जाती है


चहरे वही रहते है,

सिर्फ बाते बदल जाती है


निशानिया वही रहती है,

सिर्फ मुसाफ़िर बदल जाते है


कलम और कागज वही रहते है

सिर्फ अल्फ़ाज बदल जाते है


इस जिन्दगी में बहुत से

किरदार बदल जाते है


-तुषार गोयल

 

#poetry #poem #poet #poetsofinstagram #writersofinstagram #writing #poetsofig #writer #poetrycommunity #poems #writersofig #words #spilledink

27 views0 comments

Recent Posts

See All